2 Line Shayari: Express in Duet

Couplets, or sher, are other names for “2 Line Shayari,” a poetic form that condenses deep feelings, ideas, and experiences into just two lines. Its roots are in the rich tradition of Urdu poetry, but it has captured hearts all over the world, despite cultural differences.

2 Line Shayari- 1

हाल जब भी पूछो खैरियत बताते हो,

लगता है मोहब्बत छोड़ दी तुमने।

Haal jab bhi poochho khairiyat bataate ho, 

lagata hai mohabbat chhod di tumane.

2 Line Shayari- 2

मैं तो जिंदगी का दर्द-ए सितम बयां करता हूं,

लोग इसे ही मेरी शायरी समझ लेते हैं।

Main to zindagi ka dard-e sitam bayaan karta hoon, 

log ise hi meri shayari samajh lete hain.

2 Line Shayari- 3

तेरी खामोशी, अगर तेरी मज़बूरी है,

तो रहने दे इश्क़ कौन सा जरुरी है।

Teri khamoshi, agar teri majboori hai, 

to rahne de ishq kaun sa jaruri hai.

2 Line Shayari- 4

अकेले ही गुजर जाया करती है जिंदगी,

लोग तसल्ली तो देते हैं पर साथ नहीं।

Akele hi gujar jaaya karti hai zindagi, 

log tasalli to dete hain par saath nahin।

Shayari- 5

मेरी चाहत के जादू से तुम अभी वाकिफ नहीं हो,

हम उसे भी जीना सिखा देते है जिन्हें मरने का शौक होता है।

Meri chaahat ke jaadoo se tum abhi waqif nahin ho, 

ham use bhi jeena sikha dete hai jinhen marne ka shauk hota hai.

Shayari- 6

अपनी जिंदगी की बस यही कहानी,

कुछ खुद बर्बाद हुए और कुछ उनकी मेहरबानी।

Apni zindagi ki bas yahi kahani, 

kuch khud barbaad hue aur kuch unki mehrabani. 

Shayari- 7

साँस रुक रुक के आ रही हे कुछ न कुछ बात होने वाली है,

खुदा के पास जा चुका है कोई या फिर किसी से मुलाक़ात होने वाली है।

Saans ruk ruk ke aa rahi hai kuch na kuch baat hone wali hai, 

khuda ke paas ja chuka hai koi ya phir kisi se mulaaqaat hone wali hai.

Shayari- 8

थोड़ा आहिस्ता चल ए-जिंदगी,

अभी मेरे कुछ ख्वाब अधूरे हैं।

Thoda ahista chal e-zindagi, 

abhi mere kuch khwab adhoore hain

Shayari- 9

हमारे चले जाने के बाद, ये समुंदर भी पूछेगा तुमसे,

कहा चला गया वो शख्स जो तन्हाई मे आ कर, बस तुम्हारा ही नाम लिखा करता था।

Hamare chale jaane ke baad, ye samandar bhi poochhega tumse, 

kaha chala gaya wo shakhs jo tanhai me aa kar, bas tumhara hi naam likha karta tha.

Shayari- 10

जिंदगी का इतना तजुर्बा तो नहीं है मुझे,

पर सुना है सादगी में लोग जीने नहीं देते।

Zindagi ka itana tajurba to nahi hai mujhe, 

par suna hai saadagi mein log jeene nahi dete.

Shayari- 11

एक रास्ता ये भी है मंजिलों को पाने का,

सीख लो तुम भी हुनर हाँ में हाँ मिलाने का।

Ek raasta ye bhi hai manjilon ko paane ka, 

seekh lo tum bhi hunar haan mein haan milaane ka.

Shayari- 12

दौड़ में दौलत की तुम्हें जो भी मुक़ाम मिल जाये

नाम बदल देना मेरा जो इत्मिनान मिल जाये।

Daud mein daulat ki tumhen jo bhi muqam mil jaaye 

naam badal dena mera jo itminaan mil jaaye.

Shayari- 13

थमती नहीं है जिंदगी यहां किसी के बिना,

पर गुजरती भी नहीं है अपनों के बिना।

Thamati nahi hai zindagi yahan kisi ke bina, 

par gujarati bhi nahi hai apno ke bina.

Conclusion

2 Line Shayari” is a profound and simple poem that soothes the soul in a world where complexity and information are abundant. These couplets, with their emotional depth and conciseness, never stop working their magic and leaving a lasting impression on people who appreciate the beauty of language and the feelings conveyed in poetry.

Read more

Leave a Comment